Aasmaan Mera Watan Hai | Arif Bhatti

Aasmaan Mera Watan Hai

आसमां मेरा वतन है 
हूँ मैं मुसाफिर यहाँ -2 
वहीं लगा मेरा मन है 
पहुंचूंगा एक दिन वहां -2 
दुनियां से तू दिल न लगा 
कुछ भी न तेरा यहाँ -2 
जीना मसीह, मरना नफा 
मोती वो पेश वहां -2 
दिल में बस एक लगन है 
पा लूँ उसे मैं वहां -2 
आसमां मेरा वतन है 
हूँ मैं मुसाफिर यहाँ 
खैमे का घर, ये ज़िन्दगी 
कूच की किसको खबर -2 
ईमान से बढ़ता तू जा 
रख आसमां पे नज़र -2 
फानी जो तेरा बदन है 
होगा जलाली वहां -2 
आसमां मेरा वतन है 
हूँ मैं मुसाफिर यहाँ
रोना नहीं, कोई वहां 
न कोई दाग वहां -2 
सूरज की भी हाज़त नहीं 
बर्रा चिराग वहां -2 
चेहरा उसी का रोशन है 
हर शय मुनव्वर वहां -2 
आसमां मेरा वतन है 
हूँ मैं मुसाफिर यहाँ

Aasmaan Mera Watan Hai

Vocalist: Arif Bhatti

Lyrics & Composition: Arif Bhatti

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added