Jiwan Ke Safar Me Chalte

Jiwan Ke Safar Me Chalte

जीवन के सफर में चलते 
यीशु को पुकारा मैंने 
मुझे मिल गया मेरा हमसफर 
मेरा हमदम यार मिल गया 
इस तप्ती चिलकती धूप में 
वो था बादल के रूप में 
बाहों में समाने, दुःख दर्द मिटाने -2 
मुझे एक सहारा मिल गया 
मेरा हमदम, यार मिल गया -2 
ऐसा प्यार अनोखा न देखा 
तेरा प्यार तो धोखा न देगा 
मेरा प्यार मसीह, मेरा यार मसीह 
मुझे एक सहारा मिल गया 
मेरा हमदम यार मिल गया
मंजिल थी दूर और काँटो से भरपूर 
मेरा हाथ पकड़ के काँटो से बचाने -2 
मुझे एक सहारा मिल गया 
मेरा हमदम यार मिल गया -2

Jiwan Ke Safar Me Chalte

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added