Popular

Sharon Ka Gulab Wo Wadi Ka Phool Hai

Sharon Ka Gulab Wo Wadi Ka Phool Hai

शारोन का गुलाब वो 
वादी का फूल है -2 
जाऊँ जो छोड़ उसको 
तो ये मेरी भूल है 
शारोन का गुलाब वो 
वादी का फूल है
वो हज़ारों में है बेहतर 
सारे खुशबुओं में बढ़ कर -3 
उसको करूँ मैं सिजदा 
वो ही सबका मूल है -2 
जाऊँ जो छोड़ उसको 
तो ये मेरी भूल है 
शारोन का गुलाब वो 
वादी का फूल है
कर के हलीम खुद को 
जो मसीह के दर पे आए -3 
भरता है झोली सबकी 
दाता वो खूब है -2 
जाऊँ जो छोड़ उसको 
तो ये मेरी भूल है 
शारोन का गुलाब वो 
वादी का फूल है
गिरतों को दे सहारा 
और उसी में है कफ्फारा -3 
गम-ज़ार के भी आँसू
करता वो दूर है -2 
जाऊँ जो छोड़ उसको 
तो ये मेरी भूल है 
शारोन का गुलाब वो 
वादी का फूल है
मेरी जुबां पे चर्चे 
सदा उसके ही रहेंगे -3 
करूँ जाँ निस्सार उसपे 
जो खुदा का नूर है -2 
जाऊँ जो छोड़ उसको 
तो ये मेरी भूल है 
शारोन का गुलाब वो 
वादी का फूल है

Sharon Ka Gulab Wo Wadi Ka Phool Hai

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular