Aye Yeshu Nasri Aaj Jumbish Tu Kar

Aye Yeshu Nasri Aaj Jumbish Tu Kar

ऐ यीशु नासरी 
आज जुम्बिश तू कर -2
भर दे सामर्थ से 
और अभिषेक कर
ज़ोर तेरा कमज़ोर भी आए
कमज़ोरियों पे फतह पाए
रूह से गाएँ दिल से गाएँ
और फतह के नारे लगाएँ
आज़ाद तेरा रूह मुझको करे
पाप हमारे दूर करे
आगे होकर खुद तू लड़े
तकलीफें सब दूर करे
बातों में खुशबू तेरी हो
सांसो में मेरे तू ही तू हो
कुछ न माँगू तुझको चाहूँ
रूह में तेरा बढ़ते जाऊँ

Aye Yeshu Nasri Aaj Jumbish Tu Kar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added