Dharti Jhume Jhume Gagan

Dharti Jhume Jhume Gagan

धरती झूमे-झूमे गगन, नाचे जीया रे -2 
आज खुशियों का दिन आया रे -2 
बैतलहम के गौशाले में -2 
जन्मा शान्ति का राजकुमार -2 
खोल दिया है यीशु मसीह ने 
जग के लिए मुक्ति द्वार
भेंट चढ़ा दो सिजदे में उसके -2 
अपने जीवन का उपहार -2 
चूम लो उसके कदमों को तुम 
कर देगा वह बेड़ा पार

Dharti Jhume Jhume Gagan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added