Popular

Khet Pak Chuke Hain

Khet Pak Chuke Hain

खेत पक चुके हैं
फसल है तैयार -2 
कटनी का समय है 
आनंद का ये उत्सव है -2 
होना है दुनियां के छोर तक 
यीशु का सुसमाचार 
खेत पक चुके हैं...
जिसने जितना बोया 
उसने उतना पाया -2 
जिसने जैसा बोया 
उसने वैसा पाया -2 
आंसू बहाते हुए जो 
यीशु वचन को बोया -2 
आत्मा की फसलें काटकर 
गाएगा वो जय जयकार 
खेत पक चुके हैं...
भटकी हुई भेड़ों का 
यीशु ही सच्चा चरवाहा -2 
बेबस लाचारों का 
यीशु ही सच्चा सहारा -2 
यीशु मसीह की है आज्ञा 
सन्देश सबको सुनाओ -2 
भूखी प्यासी है ये दुनियां 
भूखा है ये संसार 
खेत पक चुके हैं...

Khet Pak Chuke Hain

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular

Recommended