Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai (Jaise Hirni Pani Ke) Anil Kant

Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai Lyrics

मेरी रूह खुदा की प्यासी है -2
मेरी रूह खुदा की प्यासी है, मेरी रूह -2
जैसे हिरणी पानी के नालों को तरसती है
मेरी रूह, मेरी रूह, खुदा की प्यासी है
मेरी रूह
Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai -2
Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai, 
Meri Rooh -2
Jaise Hirni Pani Ke Naalon Ko Tarasti Hai
Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai, Meri Rooh
रात और दिन आँसू बहते हैं
दुनियाँ वाले सब कहते हैं
है कौन कहाँ है तेरा खुदा
क्यों है इतना बेचैन ये दिल 
क्यों जान ये गिरती जाती है 
होगा किस दिन दीदार तेरा
कब होगा मिलना रू-ब-रू, मेरी रूह
मेरी रूह खुदा की प्यासी है...
Raat Aur Din Aansu Bahte Hain
Duniyan Wale Sab Kahte Hain
Hai Kaun Kahan Hai Tera Khuda 
Kyon Hai Itna Bechain Ye Dil
Kyon Jaan Ye Girti Jaati Hai 
Hoga Kis Din Didaar Tera 
Kab Hoga Milna Ru-B-Ru, Meri Rooh
Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai...
यरदन की जमीं से गाऊँगा
कोहे मिसगार से गाऊँगा
गहरांओं से गहराओं तक
रात और दिन होगा तेरा करम
मैं गीत दुआ के गाऊँगा
वो मुझ पे करे अपनी रहमत
है मेरी बस ये आरजू, मेरी रूह
मेरी रूह खुदा की प्यासी है...
Yardan Ki Zamin Se Gaaunga
Kohe Mizgaar Se Gaaunga 
Gahraaon Se Gahraaon Tak 
Raat Aur Din Hoga Tera Karam 
Main Geet Dua Ke Gaaunga 
Wo Mujh Pe Kare Apni Rahmat 
Hai Meri Bas Ye Aarzoo, Meri Rooh
Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai...
दुश्मन की मलामत तीर सी है
क्यों उसके जुल्म का शोक करूँ
चट्टान है मेरी, मेरा खुदा
वो मुझसे ये हर दम कहते हैं
है कौन कहाँ है तेरा खुदा
होगा किस दिन दीदार तेरा
मेरे टूटे दिल की आस है तू, मेरी रूह
मेरी रूह खुदा की प्यासी है...
Dushman Ki Malamat Teer Si Hai
Kyon Uske Julm Ka Shok Karun 
Chattan Hai Meri, Mera Khuda
Wo Mujhse Ye Har Dam Kahte Hain 
Hai Kaun Kahan Hai Tera Khuda 
Hoga Kis Din Didaar Tera 
Mere Tute Dil Ki Aas Hai Tu, Meri Rooh 
Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai...

Meri Rooh Khuda Ki Pyasi Hai (Jaise Hirni Pani Ke) Anil Kant

AlbumIbadat Karo
Release DateThursday, September 4, 2003
Copyright© Trinity Sounds

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added