Popular

Rooh Paak Ki Sab Barkaten | Mohammad Ali

Categories:

Rooh Paak Ki Sab Barkaten

रूह पाक की सब बरकतें 
मेरी ज़िन्दगी में उतार दे -2 
मुझे रास्ती का लिबास दे -2 
जो मेरी खुदी को मार दे 
रूह पाक की सब बरकतें 
मेरी ज़िन्दगी में उतार दे
मैला हूँ सर से पाँव तक 
अपने गुनाहों की गर्द से -2 
अपने गुनाहों की गर्द से
मुझे धो के अपने खून से 
मेरा रंग-ओ-रूप निखार दे 
मुझे रास्ती का लिबास दे 
जो मेरी खुदी को मार दे 
रूह पाक की सब बरकतें 
मेरी ज़िन्दगी में उतार दे
बेदिनियों की ये आंधियां 
मेरा पत्ता पत्ता गिरा गईं -2 
मेरा पत्ता पत्ता गिरा गईं
मैं तेरा लगाया दरख़्त हूँ 
मुझे छू के रंग-ए-बहार दे 
मुझे रास्ती का लिबास दे  
जो मेरी खुदी को मार दे 
रूह पाक की सब बरकतें 
मेरी ज़िन्दगी में उतार दे
तुझे छोड़कर मेरे नासरी 
हुआ उलझनों का शिकार मैं -2 
हुआ उलझनों का शिकार मैं
मुझे रंग के अपने रंग में 
मेरी आकबत को संवार दे 
मुझे रास्ती का लिबास दे  
जो मेरी खुदी को मार दे 
रूह पाक की सब बरकतें 
मेरी ज़िन्दगी में उतार दे

Rooh Paak Ki Sab Barkaten | Mohammad Ali

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular

Recommended