Zulm Ho Ya Ho Sitam

Zulm Ho Ya Ho Sitam

ज़ुल्म हो या हो सितम 
आगे बढ़ना है -2
भूल न जाना, मसीही जवानों
न घबराना, मसीही जवानों -2
प्रचार करना है, हे हे हे
ज़ुल्म हो या हो सितम 
आगे बढ़ना है 
याद करो तुम यीशु को 
जिसने सहे ज़ुल्म-ओ-सितम
ठान कर तुम भी चलो
क्रूस उठाकर उस राह पर -2
भूल न जाना, मसीही जवानों…
गर तुम करो, मौत का सामना
यीशु से मुकर कर न भागना
तलवार उठे तो गम नहीं
सर कटे पर, सर न झुके -2
हार न जाना, मसीही जवानों
न घबराना, मसीही जवानों -2
प्रचार करना है, हे हे हे
ज़ुल्म हो या हो सितम 
आगे बढ़ना है 
जो बढ़ रहे, नाश की ओर
उन के लिए तुम प्रयास करो
विनती करो, तुम यीशु से
उन्हें बचाने की शक्ति दो -2
उन्हें बचाने, उद्धार दिलाने -3
प्रचार करना है, हे हे हे 
ज़ुल्म हो या हो सितम 
आगे बढ़ना है…

Zulm Ho Ya Ho Sitam

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added