18.9 C
Shimla
Friday, July 1, 2022

Popular

Apne Lahu Se Dho Do Masiha

Apne Lahu Se Dho Do Masiha

अपने लहू से धो दो मसीहा
मन मैला मैं लाया हूँ -2
अर्पण करने अपना सब कुछ -2
पास तुम्हारे आया हूँ
भटका फिरा मैं ये जग सारा
दुनियाँ ने मुझको ठोकर मारी
पास तुम्हारे पहुँच न पाया
मिलने से मैं शर्माया हूँ
रात अन्धेरी, सूनी डगर हूँ
तेरे नगर की राह कठिन है
चलते -2 थक न जाऊँ -2
पग-पग ठोकर खाया हूँ
पाप की गठरी भारी मुझ पर
देख गिरा हूँ बोझ से दबकर
हाथ पकड़ कर मुझको उठाले
तेरी शरण में आया हूँ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यदि आप हमारे इस कार्य में आर्थिक रीति से सहयोग देना चाहते हैं तो आप हमसे [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं। या UPI द्वारा [email protected] पर अपनी योगदान राशि भेज सकते हैं।

Popular

Don't Miss