Chhoo Mujhe Chhoo | Ernest Mall

Chhoo Mujhe Chhoo

छू मुझे छू, 
खुदा रूह मुझे छू
मेरी जाँ को, मेरी रूह को
मेरे बदन को छू
छू, मुझे छू, 
खुदा रूह, मुझे छू
मट्टी को कुम्हार जैसे, 
हाथों से अपने संवारे
यूँ ही कलामे खुदावंद, 
गूंदे हमें और निखारे -2
भर, मुझे भर, खुदा रूह, मुझे भर
छू, मुझे छू खुदा रूह मुझे छू
मेरी जाँ को, मेरी रूह को
मेरे बदन को छू
आलूदगी जाँ जिस्म की, 
रूह की दूर कर दे
खौफ-ए-यहोवा हो कामिल, 
पाकीज़गी से भर दे -2
धो, मुझे धो खुदा रूह मुझे धो
छू, मुझे छू खुदा रूह मुझे छू
मेरी जाँ को, मेरी रूह को
मेरे बदन को छू
होठों को छू, 
सोचों को छू ख्यालों को छू, 
ऐ यीशु

Chhoo Mujhe Chhoo | Ernest Mall

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added