22.4 C
Shimla
Thursday, July 7, 2022

Popular

Jo Pita Ne Ropa Nahin

Jo Pita Ne Ropa Nahin

जो पिता ने रोपा नहीं 
उखाड़ा जाएगा 
ज़िन्दगी का यह तंबू 
उखाड़ा जाएगा -2 
कोख में अपने हाथों से 
तुझे संवारा था 
न जाने कितने ही उसने 
सपने सजाया था -2 
पर हुआ क्या? -2 
आज तेरा जीवन उजड़ गया 
बर्बादी के जाल में 
तू क्यों ही फंस गया 
जो पिता ने रोपा नहीं...
जब उसने रोपा था तुझको 
अपने बाग़ में 
कितनी अच्छी लता थी 
कितनी अच्छी डाली थी -2 
पर हुआ क्या? -2 
डालियाँ ये जंगली हो गई 
मीठे फल के बदले देखो 
कड़वे फल लगे  
जो पिता ने रोपा नहीं...
यह बदन है तेरा बन्दे 
ईश्वर का भवन 
महिमा और सम्मान से 
किया था परिपूर्ण -2 
पर हुआ क्या? -2 
उजड़ गया यह 
ईश्वर का मंदिर 
नाथ का निवास अब तो 
हो गया खंडहर 
जो पिता ने रोपा नहीं...

Jo Pita Ne Ropa Nahin

Lyrics and Music : Anil Dev

Singer : J. Sebastian, Srishti Sumit

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यदि आप हमारे इस कार्य में आर्थिक रीति से सहयोग देना चाहते हैं तो आप हमसे [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं। या UPI द्वारा [email protected] पर अपनी योगदान राशि भेज सकते हैं।

Popular

Don't Miss