Teri Hove Jai Jaikar | Martin Reubin

Teri Hove Jai Jaikar

तेरी होवे जय जयकार -2 
देहधारी बने, हम सबके लिए 
चरनी में जन्म लिए -2 
तेरी होवे जय जयकार -2
दुनियां में छाया था, 
चहुँ ओर घना अन्धकार 
जब पाप के वश होकर, 
मानव था विवश लाचार 
ज्योति बनकर जग में आए 
करने सबका उद्धार -2 
तेरी होवे जय जयकार -2
पूरब में तारा भी, 
देता है यही पैगाम 
देखो पैदा हुआ है वो, 
यीशु है जिसका नाम 
जीवन उस पर बलिदान करें 
वो जीवन का आधार -2 
तेरी होवे जय जयकार -2
होसन्ना के नारों से, 
देखो गूंज उठा आकाश 
खुशियों की तरंगों से, 
देखो झूम उठा संसार 
हर साज़ बजे, आवाज़ मिले 
गूंजे तारों की झंकार -2 
तेरी होवे जय जयकार -2
देहधारी बने, हम सबके लिए 
चरनी में जन्म लिए -2 
तेरी होवे जय जयकार -2

Teri Hove Jai Jaikar | Martin Reubin

Lyrics & Composition – Lt. Martin Reubin

Choir & Musicians of – Full Gospel Church Jabalpur

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added