Aye Khuda Teri Sharan Sabse Pyari Hai

Aye Khuda Teri Sharan Sabse Pyari Hai

ऐ खुदा, तेरी शरण, 
सबसे प्यारी है -2 
तेरे बिना हर पल यहाँ 
अधूरा लगता है -2
तेरी शरण में कितने लोग 
आते जाते हैं
कोई आता, कोई जाता 
कोई भूल जाता
ले चल मुझे, तू वहीं 
जीवन की राहों पर
मिटटी हूँ मैं, कुछ भी नहीं, 
तेरे हाथों की
टूटे हुए दिल, तेरे शरण में 
खुशियाँ पाते हैं
हर एक भटके मुसाफिरों को तू 
ढूंढ लाता है
उन आँसूओं को लेकर तू 
एक गीत बनाता है 
जीवन सफर में वो गीत 
हम गुनगुनाते हैं

Aye Khuda Teri Sharan Sabse Pyari Hai | Dhiraj James Thapa

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added