Sochon Pe Kabza Khyalon Pe Kabza

Sochon Pe Kabza Khyalon Pe Kabza

सोचों पे कब्ज़ा, ख्यालों पे कब्ज़ा -2
सांसो पे कब्ज़ा, ख्यालों पे कब्ज़ा -2
कर ले कब्ज़ा ऐ पाक रूह -4
मालिक तू ही हरदम का है -2
मरहम तू ही हर ग़म का है -2
हरदम पे कब्ज़ा हर ग़म पे कब्ज़ा -2
कर ले कब्ज़ा ऐ पाक रूह -4
पाक रूह पाक रूह पाक रूह -6
कर ले कब्ज़ा ऐ पाक रूह -4
राहें तुझसे जुड़ती रहें अब -2
हिकमत तुझसे मिलती रहें अब -2
राहों पे कब्जा, सांसो पे कब्जा -4
कर ले कब्ज़ा ऐ पाक रूह -4

Sochon Pe Kabza Khyalon Pe Kabza

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added