Wo Pyari Saleeb Dikhti Hai Mujhe | Reena Kant

Wo Pyari Saleeb Dikhti Hai Mujhe | Reena Kant

वो प्यारी सलीब, दिखती है मुझे -2
पहाड़ पर खड़ी, 
कि मसीह ने नदामत उठा 
मेरे लिए जान दी -2
वो प्यारी सलीब, दिखती है मुझे
है वो सलीब, लहू से भरी 
दिखती फिर भी कितनी हसीन -2
कि मसीह ने कफ्फारा दिया, 
मुझको मिली जिंदगी
वो प्यारी सलीब, दिखती है मुझे -2
पहाड़ पर खड़ी
था नाम जिसका शर्मिंदगी 
अब वो सलीब है ज़िन्दगी -2
मेरी जीत का, बना वो निशान -2
मसलूब यीशु मसीह 
वो प्यारी सलीब, दिखती है मुझे -2
पहाड़ पर खड़ी
छोडूं न अब मैं ये प्यारी सलीब 
रखूं इसे मैं दिल के करीब -2
मेरी शिफा, मेरी नज़ात
है ये मेरी ज़िन्दगी 
वो प्यारी सलीब, दिखती है मुझे -2
पहाड़ पर खड़ी

Wo Pyari Saleeb Dikhti Hai Mujhe | Reena Kant

Album : Yeshu Mere Saath Hai

नदामत के हिंदी अर्थ : शर्मिन्दिगी, लज्जा, लाज, हया, आत्मभर्त्सना, आत्म निन्दा

कफ़्फ़ारा के हिंदी अर्थ : किसी पाप से शुद्धि के लिए किया जाने वाला कृत्य, प्रायश्चित्त, बदला, भरपाई

मसलूब के हिंदी अर्थ : सलीब पर चढ़ाया गया, जिसे सूली पर चढ़ाया गया हो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added