+917832878330

24/7

Himachal (India)

Wo Raaste Hi Nahin Manzilen Badalta Hai

Share This Post

Wo Raaste Hi Nahin Manzilen Badalta Hai Lyrics

वो रास्ते ही नहीं 
मंज़िले बदलता है -2
मेरे मसीह का जन्म -2
हालतें बदलता है 
वो रास्ते ही नहीं 
मंज़िलें बदलता है
कभी मिज़ाज़ न बदले 
मेरे मसीहा का -2
ये वक़्त चाहे बहुत 
करवटें बदलता है -2
वो रास्ते ही नहीं 
मंज़िलें बदलता है
उदासियों के हों मौसम 
या खौफ़ के बादल -2
जिधर जिधर से वो गुज़रे 
रूतें बदलता है -2 
वो रास्ते ही नहीं 
मंज़िलें बदलता है
नई हयात की किरणें 
उतार कर दिल में -2 
वो सूरतें ही नहीं
सीरतें बदलता है -2 
मेरे मसीह का जन्म -2
आदतें बदलता है 
वो रास्ते ही नहीं 
मंज़िलें बदलता है
जो मानते हैं, 
दिल-ओ-जान से, बादशाह उसको -2 
वो उनके दिल ही नहीं 
फितरतें बदलता है -2
मेरे मसीह का जन्म -2
आदतें बदलता है 
वो रास्ते ही नहीं 
मंज़िलें बदलता है
Wo Raaste Hi Nahin 
Manzilen Badalta Hai -2 
Mere Masih Ka Janam -2 
Haalten Badalta Hai
Wo Raaste Hi Nahin 
Manzilen Badalta Hai
Kabhi Mizaaz Na Badale 
Mere Masiha Ka -2 
Ye Waqt Chahe Bahut 
Karwaten Badalta Hai -2  
Wo Raaste Hi Nahin 
Manzilen Badalta Hai
Udasion Ke Hon Mausam 
Ya Khouff Ke Baadal -2 
Jidhar Jidhar Se Wo Guzre 
Ruten Badalta Hai -2
Wo Raaste Hi Nahin 
Manzilen Badalta Hai
Nayi Hyaat Ki Kirne
Utaar Kar Dil Me -2
Wo Surten Hi Nahin 
Seerten Badalta Hai -2 
Mere Masih Ka Janam -2 
Aadaten Badalta Hai
Wo Raaste Hi Nahin 
Manzilen Badalta Hai
Jo Maante Hain 
Dil-O-Jaan Se Baadshah Usko -2
Wo Unke Dil Hi Nahin
Fitraten Badalta Hai -2 
Mere Masih Ka Janam -2 
Aadaten Badalta Hai
Wo Raaste Hi Nahin 
Manzilen Badalta Hai

Wo Raaste Hi Nahin Manzilen Badalta Hai

Lyrics : Khalid Emmanuel

More From Mehboob Gill:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here