+917832878330

24/7

Himachal Pradesh, India

Yeshu Namumkin Ko Kare Mumkin

Share This Post

Yeshu Namumkin Ko Kare Mumkin Lyrics

कांटों भरी वादी को -2 
फूलों से भरता है -2 
जो काम नामुमकिन है 
यीशु वो करता है -2
गोलियत जैसों को हराता है 
यरीहों सी दीवारों को गिराता है -2 
अपने लोगों के खातिर -2 
दुश्मन से लड़ता है 
जो काम नामुमकिन है 
यीशु वो करता है -2
लहरों पे चल के दिखाता है 
तूफान में चलना सिखाता है -2 
गिरते हुए लोगों का -2 
वो हाथ पकड़ता है 
जो काम नामुमकिन है 
यीशु वो करता है -2 
जन्म के लंगड़े चलाता है 
कब्रों से मुर्दे जिलाता है -2 
अंधों को आंखें मिलती -2 
जिस राह गुजरता है 
जो काम नामुमकिन है 
यीशु वो करता है -2
समंदर में रास्ता बनाता है 
रोटी अकाल में खिलाता है -2 
करम-ऐ -खाली जीवन को -2
रूह-ऐ-पाक से भरता है 
जो काम नामुमकिन है 
यीशु वो करता है -2
Kaanto Bhari Waadi Ko -2
Phoolon Se Bharta Hai -2 
Jo Kaam Namumkin Hai 
Yeshu Wo Karta Hai -2 
Goliyat Jaiso Ko Haraata Hai
Yariho Si Diwaar Ko Giraata Hai -2 
Apne Logo Ke Khatir -2 
Dushman Se Ladta Hai 
Jo Kaam Namumkin Hai 
Yeshu Wo Karta Hai -2 
Lehron Pe Chal Ke Dikhaata Hai 
Tufaan Me Chalna Sikhaata Hai -2 
Girte Huye Logo Ka -2 
Wo Hath Pakadta Hai 
Jo Kaam Namumkin Hai 
Yeshu Wo Karta Hai -2 
Janm Ke Langde Chalata Hai 
Kabron Se Murde Jilaata Hai -2 
Andhon Ko Aankhen Milti -2 
Jis Raah Gujrtaa Hai 
Jo Kaam Namumkin Hai 
Yeshu Wo Karta Hai -2 
Samandar Me Raasta Banata Hai 
Roti Akaal Me Khilaata Hai -2 
Karam-E-Khali Jeevan Ko -2 
Rooh-E-Paak Se Bharta Hai 
Jo Kaam Namumkin Hai 
Yeshu Wo Karta Hai -2 

Yeshu Namumkin Ko Kare Mumkin

WORSHIPER : THOMAS KOHALI, ROHINI SAMUAL

LYRICS/COMP: PS. KARMA MASIH

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here