24.3 C
Shimla
Tuesday, July 5, 2022

Popular

Ek Zindagi Kaafi Nahin | Ajay Chavan

Ek Zindagi Kaafi Nahin

एक ज़िन्दगी काफी नहीं 
तुझ से प्यार करने को 
हज़ार ज़िन्दगी भी कम हो 
यीशु तेरे ब्यान में -2 
ऐ खुदा, ऐ खुदा, 
ऐ खुदा आ आ आ -2 
Ek zindagi kaafi nahi 
Tujh se pyar karne ko
Hazaar zindagi bhi kam ho 
Yeshu Tere bayan me -2
Aye Khuda, Aye Khuda, 
Aye Khuda aa aa -2
लाखों कलम भी होते 
पर वो कम पड़ जाते 
यीशु तेरे बयान में 
तेरी बातों को सुनने को 
बार बार दिल ये चाहे 
तेरे प्यार में डूबने को 
बार बार दिल ये चाहे 
Lakho Kalam bhi hote 
par wo kam pad jaate 
Yeshu Tere bayan me
Lakho jubaan bhi hoti 
par wo kam pad jaati 
Yeshu Tere bayan me
Teri baaton ko sunane ko 
baar baar Dil ye chahe
Tere pyaar me dubne ko 
baar baar Dil ye Chahe

जी करता है खुदा तेरी मोहब्बत, इबादत और परस्तिश में, ता उम्र डूबा रहूँ। – अजय चावन

ऐ खुदा, ऐ खुदा, 
ऐ खुदा आ आ आ -2 
Aye Khuda, Aye Khuda, 
Aye Khuda aa aa -2

काम मसीह ने किया ऐसा, जहां में हर तरफ छाया हुआ था उसके प्यार का आलम। अपनी मोहब्बत की दास्तां मसीह ने यूँ लिखी, लहू बन गया स्याही और क्रूस था उसके प्यार का कलम।। – अजय चावन

Tujhse pyaar karne ko 
baar baar dil ye Chahe -2
Teri bahon me Rahne ko 
baar baar dil ye Chahe
Ek nahi, Sau baar 
marne ko dil ye Chahe
Aye Khuda, Aye Khuda, 
Aye Khuda  aa aa -2
तुझसे प्यार करने को 
बार बार ये दिल चाहे 
तेरी बाहों में रहने को 
बार बार दिल ये चाहे 
एक नहीं, सौ बार
मरने को दिल ये चाहे 
ऐ खुदा, ऐ खुदा, 
ऐ खुदा आ आ आ -2 

Ek Zindagi Kaafi Nahin

Lyrics, composer and Singer : Ajay Chavan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यदि आप हमारे इस कार्य में आर्थिक रीति से सहयोग देना चाहते हैं तो आप हमसे [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं। या UPI द्वारा [email protected] पर अपनी योगदान राशि भेज सकते हैं।

Popular

Don't Miss