8 C
Shimla
Tuesday, April 23, 2024

Har Baat Me Dhanyawad Karo

Har Baat Me Dhanyawad Karo Lyrics

हर बात में, धन्यवाद करो -3
क्योंकि प्रभु की इच्छा यही है
ताली को बजाओ और धन्यवाद करो
हाथों को उठाओ और धन्यवाद करो
क्योंकि प्रभु की इच्छा यही है
दुःख में सुख में, धन्यवाद करो
अमीरी में, गरीबी में, धन्यवाद करो
क्योंकि प्रभु की इच्छा यही है
ओ नहीं कभी नहीं, यीशु को छोड़ना
जब तेरा मन हो व्याकुल
और बोझ से दबा हुआ -2
तब क्या करोगे?
हर बात से धन्यवाद करो -3
क्योंकि प्रभु की इच्छा यही है
हर एक परिस्थिति में, धन्यवाद करो -3
क्योंकि प्रभु की इच्छा यही है
Har Baat Me Dhanyawad Karo -3
Kyonki Prabhu Ki Ichha Yahi Hai 
Taali Ko Bajao Aur Dhanyawad Karo 
Hathon Ko Uthao Aur Dhanyawad Karo 
Kyonki Prabhu Ki Ichha Yahi Hai 
Dukh Me Sukh Me Dhanyawad Karo
Amiri Me Garibi Me Dhanyawad Karo
Kyonki Prabhu Ki Ichha Yahi Hai 
O Nahin Kabhi Nahin
Yeshu Ko Chhodna 
Jab Tera Man Ho Vyakul 
Aur Bojh Se Daba Hua -2 
Tab Kya Karoge?
Har Baat Me Dhanyawad Karo -3
Kyonki Prabhu Ki Ichha Yahi Hai 
Har Ek Pristhiti Me Dhanyawad Karo -3 
Kyonki Prabhu Ki Ichha Yahi Hai 

Har Baat Me Dhanyawad Karo

spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Low of Leadership

The 21 Irrefutable Laws of Leadership

Follow Them and People Will Follow You (25th Anniversary Edition)

Don't Miss