Popular

Jiski Koi Bhi Kadar Na Thi | Faraz Nayyer

Jiski Koi Bhi Kadar Na Thi

जिसकी कोई भी कदर न थी 
उसको खुदा ने मकबूल किया 
जो चरनी चारे कि जगह थी 
उसमें मसीह ने जन्म लिया 
Jiski Koi Bhi Kadar Na Thi
Usko Khuda Ne Maqbool Kiya
Jo Charni Chaare Ki Jagah Thi
Usme Masih Ne Janam Liya
दुनियां के बादशाह, महलों में आए 
बादशाह जलाल के अस्तबल में आए 
खुशखबरी आसमान से आई 
फरिश्तों ने गा के इज़हार किया 
जिसकी कोई भीं कदर न थी 
उसको खुदा ने मकबूल किया 
जो चरनी चारे कि जगह थी 
उसमें मसीह ने जन्म लिया 
Duniya Ke Baadshah, 
Mehlon Me Aaye 
Baadshah Jalal Ke Astabal Me Aaye
Khush-Khabri Aasmaan Se Aayi 
Farishton Ne Ga Ke Izhar Kiya
Jo Charni Chaare Ki Jagah Thi
Usme Masih Ne Janam Liya
बेटा खुदा का दुनियां में आया 
खुदा और इन्सान का मेल कराया 
गुनाह के सबब जो दीवार खड़ी थी 
उसको मसीह ने तोड़ दिया 
जिसकी कोई भीं कदर न थी 
उसको खुदा ने मकबूल किया 
जो चरनी चारे कि जगह थी 
उसमें मसीह ने जन्म लिया 
Beta Khuda Ka Duniya Me Aaya 
Khuda Aur Insan Ka Mel Karaya
Gunah Ke Sabab Jo Diwaar Khari Thi
Usko Masih Ne Tod Diya
Jo Charni Chaare Ki Jagah Thi
Usme Masih Ne Janam Liya

Jiski Koi Bhi Kadar Na Thi

Singer: Faraz Nayyer

Lyrics & Composition: Samuel Nayyer

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular

Recommended