24.3 C
Shimla
Tuesday, July 5, 2022

Popular

Khamosh Raaton Ki Thandi Hawaon Se

Khamosh Raaton Ki Thandi Hawaon Se

खामोश रातों की ठंडी हवाओं से 
आई फरिश्तों की मीठी आवाज़ 
पैदा हुआ, पैदा हुआ -2
मुक्तिदाता हमारा, पैदा हुआ 
तारणहारा हमारा, पैदा हुआ
KHAMOSH RATON KI THANDI HAWAON SE
AAYEE FARISHTON KI MITHI AWAAZ
PAIDA HUA PAIDA HUA 
PAIDA HUA PAIDA HUA
MUKTIDATA HAMARA PAIDA HUA
TARANHARA HAMARA PAIDA HUA
फरिश्तों ने आके ज़मीन पे 
गड़रियों को दिया इशारा 
पैदा हुआ है, मुंजी जो 
मिलेगा तुम्हें एक गौशाला 
चरवाहों ने भी उसको, सिजदा किया 
FARISHTON NE AAKE ZAMEEN PE
GADARIYON KO DIYA ISHARA
PAIDA HUA HAI MUNJI JO
MILEGA TUMHE EK GOSHALA
CHARWAHON NE BHI USKO SIJDA KIYA
देखो वो पूरब दिशा से
आये थे तारे के पीछे 
मजूसी भी सर को झुकाके
शिक्षक यीशु को ही माने 
बुद्धिमानों ने भी उसको, सिजदा किया 
DEKHO WO PURAB DISHA SE
AAYE THEY TARE KE PEECHEY
MAJUSI BHI SAR KO JHUKA KE
SHIKSHAK YES
HU KO HI MANE
BUDHIMANO NE BHI USKO SIJDA KIYA

Khamosh Raaton Ki Thandi Hawaon Se

Written, Composed, Arranged & Directed by Rajinald Vijay Milton Regi


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यदि आप हमारे इस कार्य में आर्थिक रीति से सहयोग देना चाहते हैं तो आप हमसे [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं। या UPI द्वारा [email protected] पर अपनी योगदान राशि भेज सकते हैं।

Popular

Don't Miss