13.4 C
Shimla
Wednesday, February 28, 2024

Main Na Jaungi Bharne Ko Pani Kabhi | Qawwali

Main Na Jaungi Bharne Ko Pani Kabhi Lyrics

जिनको आँखों से हमने, न देखा कभी 
आज उसने बदल दी, हमारी ज़िन्दगी 
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी 
ये वाक्या है सामरी औरत का देखिये -2 
ईसा से उसकी बात हुई कैसे देखिये -3 
ईसा चले यहूदा से, जिस दम गलील को -2 
पहुंचे वो जब एक सामरी सूखार शहर को -2 
उस शहर के करीब था याकूब का कुआं -2 
थे आप कुछ थके हुए, जा बैठे फिर वहां -3
औरत एक आई, पानी जो भरने के वास्ते -2 
फ़रमाया उससे पानी तू पिला दे आज मुझे -2 
औरत ये बोली, तू है यहूदी, मैं सामरी -2 
जब सामरी, यहूदी में निस्बत नहीं कोई -2 
दोनों में कोई मेल नहीं, जानता है तू -2 
फिर पानी मुझसे पीने को क्यों मांगता है तू -3 
ईसा ये बोले, तू मुझे पहचानती नहीं -2 
माँगा है किसने पानी तुझसे जानती नहीं -3
पानी पिला के मुझको, बुझा अपनी प्यास तू -2 
सुन जिंदगी में अब न रहेगी उदास तू -2 
वो ज़िन्दगी का पानी पिलाऊंगा मैं तुझे -2 
बुझ जाए तेरी प्यास, अब्द तक के वास्ते -2 
औरत ये बोली, तू मुझे पानी पिला दे तू -2 
ये रोज़ रोज़ पानी का भरना छुड़ा दे तू -2 
ईसा ने उसको जाम-ए-हक़ीकत पिला दिया -2 
अपना बना के उसको खुदा से मिला दिया -2
वो पानी भरना भूल के दीवानी हो गई -3
और जा के सामरी में, वो लोगों से बोल उठी -4  
मैं न जाऊँगी
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी 
प्यास मन की बुझी, दिल मेरा भर गया -2 
प्यास मन की बुझी, प्यास मन की बुझी -4 
मैं न जाऊँगी, मैं न जाऊँगी
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी -4
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी 
प्यास मन की बुझी, दिल मेरा भर गया -2 
ये जमीं मेरे खातिर, बनीं आसमां -3
आज मुझको ज़मीं पर, खुदा मिल गया -4 
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी -2 
उसने पीने को माँगा था, पानी मगर 
प्यास उसने बुझाई, मेरे सर बसर 
मुझको मालूम था, कि यहूदी है वो -2 
ज़िन्दगी भर का वो, आसरा मिल गया -4  
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी -2 
आज का दिन, सुहाना है मेरे लिए -2 
एक नया अब ज़माना है मेरे लिए 
उसने दिखला दिया -2 
अब खुदा है मुझे -4 
ये करम उसका कितना बड़ा हो गया -4 
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी -2 
प्यास मन की बुझी, दिल मेरा भर गया -2 
प्यास मन की बुझी, प्यास मन की बुझी -4 
प्यास मन की बुझी, दिल मेरा भर गया -4
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी -4
मैं न जाऊँगी, मैं न जाऊँगी
मैं न जाऊँगी, भरने को पानी कभी -4
Jinko Aankhon Se Hamne, 
Na Dekha Kabhi
Aaj Usne Badal Di, 
Hamari Zindagi
Main Na Jaungi, 
Bharne Ko Paani Kabhi
Ye Wakya Hai Saamri Aurat Ka Dekhiye -2
Isa Se Uski Baat Huyi Kaise Dekhiye -3
Isa Chale Yahuda Se Jis Dam Galeel Ko -2
Pahunche Wo Jab Ek Saamri Sukhaar Shehar Ko -2
Us Shehar Ke Kareeb Tha Yaakub Ka Kuaan -2
The Aap Kuchh Thake Huye, Ja Baithe Fir Vahan -3
Aurat Ek Aayi, Paani Jo Bharne Ke Waastey -2
Farmaya Us Se Paani Tu Pila De Aaj Mujhe -2 
Aurat Ye Boli, Tu Hai Yahudi, Main Saamri -2
Jab Saamri, Yahudi Me, Nisbat Nahin Koi -2 
Dono Me Koi Mel Nahin, Jaanta Hai Tu -2
Fir Paani Mujhse Peene Ko Kyon Maangta Hai Tu -3
Isa Ye Bole, Tu Mujhe Pehchanti Nahin -3 
Maanga Hai Kisne Paani Tujhse Jaanti Nahin -3 
Paani Pila Ke Mujhko, Bujha Apni Pyaas Tu -2
Sun Zindagi Me Ab Na Rahegi Udaas Tu -2
Wo Zindagi Ka Paani Pilaunga Main Tujhe -2 
Bujh Jaaye Teri Pyaas, Abad Tak Ke Waastey -2
Aurat Ye Boli, Tu Mujhe Paani Pila De Tu -2 
Ye Roz-Roz Paani Ka Bharna, Chhuda De Tu -2
Isa Ne Usko Jaam-E-Haqeeqat Pila Diya -2
Apna Bana Ke Usko, Khuda Se Mila Diya -3 
Wo Paani Bharna Bhul Ke, Diwani Ho Gayi -3 
Aur Ja Ke Saamri Me, Wo Logon Se Bol Uthi -3  
Main Na Jaungi
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi
Pyaas Man Ki Bujhi, Dil Mera Bhar Gaya -2
Pyaas Man Ki Bujhi, Pyaas Man Ki Bujhi -6 
Main Na Jaungi, Main Na Jaungi
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi -4
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi 
Pyaas Man Ki Bujhi, Dil Mera Bhar Gaya -2
Ye Zameen Mere Khatir, Bani Aasman -3
Aaj Mujhko Zameen Par, Khuda Mil Gaya -4
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi -2
Usne Peene Ko Maanga Tha, Paani Magar 
Pyaas Usne Bujhayi, Mere Sar Basar
Mujhko Maalum Tha, Ki Yahudi Hai Wo -2
Zindagi Bhar Ka Wo, Aasra Mil Gaya -4
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi -2
Aaj Ka Din, Suhana Hai Mere Liye -2
Ek Naya Ab Zamaana Hai Mere Liye
Usne Dikhla Diya -2
Ab Khuda Hai Mujhe -4
Ye Karam Uska Kitna Bada Ho Gaya -4
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi -2
Pyaas Man Ki Bujhi, Pyaas Man Ki Bujhi -4
Pyaas Man Ki Bujhi, Dil Mera Bhar Gaya -4
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi -4
Main Na Jaungi, Main Na Jaungi
Main Na Jaungi, Bharne Ko Paani Kabhi -4

Main Na Jaungi Bharne Ko Pani Kabhi

By Gospel Singer Deepak Dolare

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

lyricsa (hindi christian song lyrics)

क्या लिरिक्सा आपके लिए एक उपयोगी संसाधन है?

हम आपको बेहतर सेवाएँ देने के लिए प्रयासरत हैं, कृपया YouTube पर भी हमारा समर्थन करें...

Don't Miss