Main Ye Zindagi Han Ye Zindagi | Shishye Thompson

Main Ye Zindagi Han Ye Zindagi | Shishye Thompson

मैं ये जिन्दगी हाँ ये जिन्दगी
तेरे कदमों पर ही मिटा सकूँ
मेरे यीशु का हर लब्ज भी
मेरी जिन्दगी में उतार लूँ
मैं यूँ दरबदर था भटक रहा
अपनों में ही जख्मी हुआ -2
मुझे न शहर न सहर मिला
तब यीशु मुझसे आ मिला
मेरा घर जमीं सब लूट गया
मेरी दौलतों को लगी चिता -2
मेरा यीशु तू मुझे मिल गया
मेरी जान को जहाँ मिला
मेरे अपने सब बने दुश्मन अब
मेरे प्यार के बदले ये सब -2
मेरे मुन्जी ने मुझे ढूँढ लिया
मुझ को गले से लगा लिया

Main Ye Zindagi Han Ye Zindagi | Shishye Thompson

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added