22.2 C
Shimla
Monday, April 22, 2024

Prabhu Ji Tore Darshan Se

Prabhu Ji Tore Darshan Se Lyrics

प्रभु जी तोरे दर्शन से 
अंसुअन की धारा बह निकली -2 
तेरा प्रेम सत्य है -4 
बाकी सब हैं नकली 
प्रभु जी तोरे दर्शन से 
अंसुअन की धारा बह निकली -2  
पीड़ा को तू ही समझे 
दिखावा करे बाकी सब ही 
चरणों में तेरे स्वर्ग मेरा 
अब दिल न लागे और कहीं -2 
ईर्ष्या मेरे मन के अन्दर से 
कृपा से तेरी निकली 
प्रभु जी तोरे दर्शन से 
अंसुअन की धारा बह निकली -2 
नज़दीक बुलाता पापियों को 
घृणा नहीं करता तू कभी 
तेरे प्रेम की किरणों से रौशन 
होते जग के लोग सभी -2 
मेरे गुनाहों को माफ़ किया तूने 
देर न की इक पल की 
प्रभु जी तोरे दर्शन से 
अंसुअन की धारा बह निकली -2 
विश्वास जो तुझ पर लाता है 
उसे मोक्ष मिले संसार में ही 
तू जो आनंद देता है प्रभु जी 
पा न सके हम और कहीं -2 
उद्धारक, मुक्ति के स्वामी 
तुझ से न बड़ा कोई प्रेमी 
प्रभु जी तोरे दर्शन से 
अंसुअन की धारा बह निकली...
Prabhu Ji Tore Darshan Se
Ansuan Ki Dhara Beh Nikli -2
Tera Prem Satya Hai -4
Kaali Sab Hain Nakli 
Prabhu Ji Tore Darshan Se
Ansuan Ki Dhara Beh Nikli -2
Peeda Ko Tu Hi Samjhe
Dikhawa Kare Baaki Sab Hi
Charno Me Tere Swarg Mera 
Ab Dil Na Laage Aur Kahin -2 
Irshya Mere Man Ke Andar Se
Kripa Se Teri Nikli
Prabhu Ji Tore Darshan Se
Ansuan Ki Dhara Beh Nikli -2
Nazdeek Bulata Paapiyon Ko
Ghrina Nahin Karta Tu Kabhi 
Tere Prem Ki Kirno Se Roshan
Hote Jag Ke Log Sabhi -2
Mere Gunahon Ko Maaf Kiya Tune
Der Na Ki Ik Pal Ki 
Prabhu Ji Tore Darshan Se
Ansuan Ki Dhara Beh Nikli -2
Vishwas Jo Tujh Par Lata Hai
Use Moksh Mile Sansaar Me Hi
Tu Jo Anand Deta Hai Prabhu Ji
Pa Na Sake Ham Aur Kahin -2
Uddharak Mukti Ke Swami
Tujh Se Na Bada Koi Premi
Prabhu Ji Tore Darshan Se
Ansuan Ki Dhara Beh Nikli...

Prabhu Ji Tore Darshan Se

spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Low of Leadership

The 21 Irrefutable Laws of Leadership

Follow Them and People Will Follow You (25th Anniversary Edition)

Don't Miss