Prarthna Me Jo Kuch Manga

Prarthna Me Jo Kuch Manga

प्रार्थना में जो कुछ माँगा
पूरा करो अरमान
सारी खताएँ मानता हूँ 
तेरा करूँ अब ध्यान
दिल में धीमी आवाज आई
अपने गुनाहों को मान
जान लिया मैंने आवाज उसकी
जिसका किया अपमान -2
ईमान लाए तुझ पे मसीहा
आए तुम्हारे पास
माफ करो अब पाप हमारे
आओ हमारे पास
जाना सभी को आखिर वहाँ पे
होगा जहाँ इंसाफ
धो दे दिलों को आज हमारे
कर दे लहू से साफ

Prarthna Me Jo Kuch Manga

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added