Rooh E Paak Khudawand Aa Tu Aa

Rooh E Paak Khudawand Aa Tu Aa

रूह-ए-पाक खुदावंद, आ तू आ -2
जान जिस्म और रूह में तू बस जा
आ आ रूह आ -2
रूह आ-रूह आ-रूह आ
रूह के शोले लपक-लपक जब आते हैं
बंधन सारे टूट के गिरते जाते हैं -2
आ – आ
बारिश होगी रूहे पाके के बादल से
धुल जाऐंगे मैले मन भी अंदर से -2
आ – आ
रूह की सूरत में यीशु जब आएगा
तहस - नहस होगा शैतान हिल जाएगा -2
आ – आ

Rooh E Paak Khudawand Aa Tu Aa

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recently Added