21.6 C
Shimla
Thursday, July 7, 2022

Popular

Jab Lakhon Hain Bhagwan

Jab Lakhon Hain Bhagwan

जब लाखों हैं भगवान 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान -2 
अनगिनत मिले वरदान 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान 
जब लाखों हैं भगवान 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान
हम विश्वासी भारतवासी 
हर पग शीश झुकाते हैं 
इतना आदर इन्सान तो क्या 
पत्थर भी पूजे जाते हैं 
लाखों साधू, लाखों यंत्र 
है पग-पग पर जादू मंत्र 
इतने स्वामी, चेले करोड़ हैं 
पास इनके हर जोड़-तोड़
डमरू डूगी गले में माला 
सर पे बबूत केशों वाला 
तोता बता रहा है फ्यूचर -2 
एक मोटा पूछ रहा डर-डर 
क्या पश्चिम में घर की खिड़की 
या पूरब में है फर्नीचर 
जब इतना सारा ज्ञान -3 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान 
जब लाखों हैं भगवान 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान

लूटने वाले खड़े राह में, लुटने वाले बड़ी चाह में, पीछे वाले सोच रहे हैं; बड़े फायदे में अगले…

कोई चौका-छक्का मार दे तो 
मंदिर उनके बन जाते हैं -2 
फिल्मों में हिट हो जाएं तो 
उनको भगवान बुलाते हैं 
उनके भी मंदिर बनते हैं 
और पूजा यार की सजती है 
गाए जाते हैं भजन गीत 
क्या हम लोगों की भक्ति है 
इन्सान को बोले परमपूज्य -2 
चरनों को धो के पीते हैं 
हम ऐसे कितने बाबाओं के 
आशीर्वाद से जीते हैं 
जो मांगे इनको मिलता है -2 
जो चाहें वो करवाते हैं 
इन्सान बना भगवान -3 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान 
जब लाखों हैं भगवान 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान
एक और नया अवतार जन्म 
अपनी धरती पे लेता है 
हर पांच साल में आता है 
हाँ ठीक कहा जी नेता है 
ये दोनों हाथ से लेता है 
और कभी न वापस देता है 
मज़हब के नाम पे लेता है 
भाषा के नाम पे लेता है 
लड़वाता है, मरवाता है 
जलवाता है, कटवाता है 
जब काम बने न अपनों से 
ये दुश्मन से मिल जाता है 
इसके भी लाखों भक्त यहाँ -2 
और सेवक इसके वफादार 
राजा के एक इशारे पे 
ये देश जला दे बार-बार 
नेता की ऐसी शान -3 
तो ऐसा क्यों है हिदोस्तान 
जब लाखों हैं भगवान 
तो ऐसा क्यों है हिन्दोस्तान
लेकिन कहीं पे एक सच्चा रब 
वो आसमान में रोता है -2 
कहता है, ये क्या मेरे नाम से 
इस जहान में होता है 
बन गए खुदा, इन्सान सभी 
भूले हैं मेरी शान सभी 
जो कहता है मेरे सच को 
सूली में गड़ते हैं उसको 
धरती पे गर मैं जाऊंगा 
मुझको भी न पहचानेंगे 
है चमत्कार को नमस्कार 
सच्चाई क्या ये मानेंगे 
पैसा खुदा है, शोहरत खुदा है 
ताकत खुदा है, ये क्या हुआ 
लो मैंने भी अब छोड़ दिया 
और अपने मुख को मोड़ लिया 
जब रूठ गया भगवान -3 
तो फिर क्या होगा हिन्दोस्तान -2 

Jab Lakhon Hain Bhagwan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यदि आप हमारे इस कार्य में आर्थिक रीति से सहयोग देना चाहते हैं तो आप हमसे [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं। या UPI द्वारा [email protected] पर अपनी योगदान राशि भेज सकते हैं।

Popular

Don't Miss