+917832878330

24/7

Himachal (India)

Rehmat Masih Ki (Dil Me Tere Deewano Ke) | Qawwali

Share This Post

Rehmat Masih Ki Lyrics (Dil Me Tere Deewano Ke Lyrics)

क्यों भटकता फिरूँ, ज़माने में? 
क्या कमी है तेरे खज़ाने में? 
जब भी सोचा कि, रु-ब-रु तू है 
लुत्फ़ आया है, सर झुकाने में 
दिल में तेरे दीवानों के -2
सूरत मसीह की है -4
जीते हैं आज शान से -2
रहमत मसीह की है -2
दुनियां सलाम करती है 
हैरत की बात है -2
मैं कुछ नहीं हूँ सब 
तेरी रहमत की बात है 
जीते हैं आज शान से
रहमत मसीह की है -2
तुम्हारे चश्मे करम 
जिसमें आम हो जाये -2
ज़माने भर में वो 
आली मक़ाम हो जाये -2
जिसे तुम अपना बना लो 
गुलाम या ईसा? -2
तो उस गुलाम की दुनियां 
गुलाम हो जाये 
जीते हैं आज शान से 
रहमत मसीह की है -2
सर को झुका के दर पे जो 
माँगा वो मिल गया -2
मंजर है जन्नती यहाँ -2
बरकत मसीह की है -2
हरदम उसी को याद करो 
और दुआ करो -3
ऐसे बनो कि कह सको -2
आदत मसीह की है -2
मैं कुछ नहीं हूँ 
ये तो करम आप ही का है -3
इज्जत मसीह ने दी है ये -2
दौलत मसीह की है -2 
करता रहूँगा हम्द तमाम उम्र -2
दिल को उसी की आरजू -2
निस्बत मसीह की है -2
दिल में तेरे दीवानों के 
सूरत मसीह की है 
Kyon Bhatakta Firuun, Zamaane Me?
Kya Kami Hai Tere, Khazaane Me? 
Jab Bhi Socha Ki, Ru-Ba-Ru Tu Hai
Lutf Aaya Hai Sar, Jhukaane Me
Dil Me Tere Deewano Ke -2
Surat Masih Ki Hai -4
Jeete Hain Aaj Shaan Se -2
Rehmat Masih Ki Hai -2 
Duniyan Salaam Karti Hai
Hairat Ki Baat Hai -2
Main Kuch Nahin Hun Sab 
Teri Rehmat Ki Baat Hai 
Jeete Hain Aaj Shaan Se
Rehmat Masih Ki Hai -2 
Tumhare Chashme Karam
Jisme Aam Ho Jaaye -2
Zamaane Bhar Me Wo
Aali Makaam Ho Jaaye -2 
Jise Tum Apna Bana Lo
Gulaam Ya Isaa? -2
To Us Gulaam Ki Duniyan 
Gulaam Ho Jaaye 
Jeete Hain Aaj Shaan Se
Rehmat Masih Ki Hai -2 
Sar Ko Jhuka Ke Dar Pe Jo
Maanga Wo Mil Gaya -2
Manzar Hai Jannati Yahan -2
Barqat Masih Ki Hai -2 
Hardam Usi Ko Yaad Karo
Aur Dua Karo -3
Aise Bano Ki Keh Sako -2
Aadat Masih Ki Hai -2 
Main Kuch Nahin Hun 
Ye To Karam Aap Hi Ka Hai -3
Izzat Masih Ne Di Hai Ye -2
Daulat Masih Ki Hai -2
Karta Rahunga Hamd Tamaam Umr -2
Dil Ko Usi Ki Aarzoo -2
Nisbat Masih Ki Hai -2
Dil Me Tere Deewano Ke
Surat Masih Ki Hai

Rehmat Masih Ki (Dil Me Tere Deewano Ke) | Morvin Inayat | Qawwali

Christian (Masihi) Qawwali by Morvin Inayat Ajmeri (Ajmer, Rajasthan)

Note:- भजन (क़व्वाली) में से गीतकार का नाम निकालने के लिए हम क्षमा चाहेंगे। हमने ऐसा इसलिए किया ताकि हर कोई प्रभु की रहमतों का शुक्रगुज़ार हो सके। धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here