5.8 C
Shimla
Tuesday, February 27, 2024

Jab Jab Gunah Ka Socha

Jab Jab Gunah Ka Socha Lyrics

जब जब गुनाह का सोचा 
तेरी याद दिल में आई -2 
और कलवरी की धारा 
ह्रदय से यूँ चिल्लाई 
येसू तेरे होते गुनाह मैं कैसे करूँ -2 
तेरे होते गुनाह मैं कैसे करूँ
कभी कभी बगावत करता है मन 
तुझसे भी सुन्दर लगता है धन -2 
सोने की चमक, पैसे की सदा -2 
ताने दे, कौन है तेरा खुदा?
तब मैं घुटनों पर आता हूँ 
सर को झुकाकर कहता हूँ 
जब जब गुनाह का सोचा...
ये सच है, पाप का जोर है 
तेरा इश्क ही इसका तोड़ है -2 
लिपटूं तुझसे बच्चे की तरह -2 
हाथों में तेरे डोर है 
तू मेरी खातिर पाप बना 
ये सोचता हूँ, तो कहता हूँ 
जब जब गुनाह का सोचा...
Jab Jab Gunah Ka Socha
Teri Yaad Dil Me Aayi -2
Aur Kalvary Ki Dhara
Hriday Se Yun Chillayi 
Yesu Tere Hote Gunah Main Kaise Karun? -2
Tere Hote Gunah Main Kaise Karun?
Kabhi Kabhi Bagawat Karta Hai Man
Tujhse Bhi Sundar Lagta Hai Dhan -2
Sone Ki Chamak, Paise Ki Sada -2
Taane De, Kaun Hai Tera Khuda?
Tab Main Ghutno Par Aata Hun 
Sar Ko Jhuka Kar Kehta Hun
Jab Jab Gunah Ka Socha...
Ye Sach Hai Paap Ka Zor Hai 
Tera Ishk Hi Iska Tod Hai -2
Liptun Tujhse Bachche Ki Tarah -2 
Hathon Me Tere Dor Hai 
Tu Meri Khatir Paap Bana 
Ye Sochta Hun To Kehta Hun 
Jab Jab Gunah Ka Socha...

Jab Jab Gunah Ka Socha

Singer – Deepak Dolare

Lyrics – Ernest mall

Another Version : JAB JAB GUNAHON KA SOCHA | ERNEST MALL

More From Ernest Mall

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

lyricsa (hindi christian song lyrics)

क्या लिरिक्सा आपके लिए एक उपयोगी संसाधन है?

हम आपको बेहतर सेवाएँ देने के लिए प्रयासरत हैं, कृपया YouTube पर भी हमारा समर्थन करें...

Don't Miss